CG Govt Scheme NEWS Update 2023: छत्तीसगढ़ की नई सरकार में कई योजनाओं का बंद होना तय! सबसे पहले नंबर पर गोबर खरीदी, इन योजनाओं का बदल सकता है नाम, पढ़े पूरी खबर

CG Govt Scheme News Update 2023

CG Govt Scheme News Update 2023 नई छत्तीसगढ़ सरकार में, पूर्व कांग्रेस सरकार द्वारा शुरू की गई कई योजनाओं के नाम में परिवर्तन की संभावना है। इसके अलावा, कई योजनाएं समाप्त भी हो सकती हैं। पहले नंबर पर परिवर्तन के लिए तैयार है गोबर खरीदी योजना।

इसके अलावा, राशन कार्डों पर भूपेश सरकार की तस्वीरें अपडेट हो रही हैं। खुबचंद बघेल योजना के तहत मेडिकल हेल्थ कार्ड में भी नाम के साथ नई तस्वीर होगी। धनवंतरि योजना और स्वामी आत्मानंद स्कूल में भी नाम में बदलाव हो सकता है।

विपरीत ओर, पूर्व भाजपा द्वारा चलाई गई योजनाओं को दूर करने की शीघ्रता है। राज्य के 15 हजार से अधिक अटल चौक की मरम्मत और सफाई का काम तेज किया जा रहा है। स्व.अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर छत्तीसगढ़ के गांव-गांव में प्रदेश में अटल चौक बनाया गया था। कई गांवों में यह चौक टूट-फूट चुका है, जिसमें फिर से बनाने की तैयारी है। भूपेश सरकार की पूर्ववर्ती योजनाएं भी खतरे में हैं, जिनमें गो-धन न्याय योजना सबसे पहले नंबर पर है। इसके अलावा, राजीव गांधी किसान न्याय योजना भी बंद की जाएगी।

स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी मीडियम स्कूल: शिक्षा की नई दिशा

स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी मीडियम स्कूल, जो कांग्रेस सरकार द्वारा 2020 के पहले नवंबर से शुरू की गई, मध्यप्रदेश में एक नए शिक्षा क्षेत्र की शुरुआत कर रही है। इसके साथ ही, प्रदेश में खुल चुके 726 स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी और हिन्दी उत्कृष्ट विद्यालयों ने शिक्षा के क्षेत्र में नए मील के कदम उठाए हैं। इसमें 377 अंग्रेजी और 349 हिन्दी माध्यम के स्कूल शामिल हैं, जिनमें चार लाख 21 हजार से अधिक छात्र अध्ययनरत हैं।

शिक्षा की स्तर

यहाँ बच्चों को अच्छी शिक्षा प्रदान करने के लिए अद्वितीय प्रयास हो रहा है। स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी मीडियम स्कूलों की संख्या बढ़ाने के साथ-साथ, पूर्ववती सरकार ने 10 जिलों में इसके कॉलेजों की शुरुआत की है, जिससे शिक्षा क्षेत्र में नए मानकों की स्थापना हो रही है।

सामाजिक क्षेत्र में योजनाएं

कांग्रेस सरकार ने सामाजिक न्याय की दिशा में कई महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं। 2.68 लाख राशन कार्ड में भूपेश बघेल की फोटो को शामिल करने के साथ-साथ, गांवों में पुराने राशन कार्ड को जमा करवाने का कार्य शुरू किया गया है। इससे ग्राम पंचायतों में सामूहिक समृद्धि की दिशा में कदम बढ़ाया गया है।

आयुष्मान भारत योजना में परिवर्तन

आयुष्मान भारत योजना के तहत, आयुष्मान कार्ड से हटाया जा रहा है खूबचंद बघेल का नाम, जिनका संबंध गांधीवादी विचाराधारा से था। यह परिवर्तन विवाद का कारण बना था, और इससे सामाजिक दृष्टि से योजना को मजबूती मिली है।

कांग्रेस सरकार ने स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी मीडियम स्कूलों और अन्य योजनाओं को लेकर अपने उद्देश्यों की नई दिशा बताई है। यह सरकार नहीं सिर्फ शिक्षा क्षेत्र में नए यायाम स्थापित कर रही है बल्कि सामाजिक और आर्थिक स्तर पर भी सुधार कर रही है।

 Also Read 

Central Universities CUREC Recruitment 2023: कई विश्वविद्यालयों से निकली बम्पर भर्ती, जाने क्या है

अब बिना NET और PHD के भी बन सकते हैं प्रोफेसर, जानिए यूजीसी की नई गाइडलाइन

Leave a Reply

Click here to close this advertisement
Scroll to Top